व्यापार-कारोबार

Post Office की इन स्कीम्स में कीजिए निवेश, हमेशा रहेंगे फायदे में

[ad_1]

नई दिल्लीः पोस्ट ऑफिस (India Post) में कई सारी ऐसी योजनाएं चलती है, जिनमें निवेश करके एक आम आदमी बहुत अच्छा रिटर्न पा सकता है. इन योजनाओं में केंद्र सरकार की तरफ से गारंटी भी रहती है, जिसके चलते किसी तरह की धोखाधड़ी होने की कोई गुंजाइश भी नहीं रहती है.

डाकघर में चल रही हैं 9 निवेश योजनाएं

डाकघरों में निवेश के लिए 9 अलग-अलग तरह की निवेश स्कीम चल रही हैं. इन निवेश योजनाओं पर हर तिमाही पर ब्याज दरें बदलती रहती हैं. पोस्ट ऑफिस की खासियत ये है कि इसमें आपको बच्चे और सीनियर सिटीजन्स सबके लिए अलग प्लान हैं. इन स्कीम की सबसे बड़ी खूबी यह है कि इनमें कुछ योजनाओं में सेक्शन 80C के तहत टैक्स छूट का लाभ भी मिलता है. 

यह भी पढ़ेंः ESIC लाभार्थियों को बड़ी राहत, निजी अस्पतालों में भी करवा सकेंगे इलाज

डाकघर राष्ट्रीय बचत पत्र 

पोस्ट ऑफिस की यह निवेश योजना काफी पॉपुलर है. पोस्ट ऑफिस नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट (NSC) में निवेश पर फिलहाल सालाना आधार पर 6.8 फीसदी ब्याज मिलता है. इसमें ब्याज की गणना सालाना आधार पर होती है. नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट में जमा राशि पर आयकर अधिनियम की धारा 80 सी के तहत कर छूट मिलती है. इस योजना में आप 5 साल के लिए निवेश कर सकते हैं.

5 साल वाला रिकरिंग डिपॉजिट (RD)

पोस्‍ट ऑफिस में मिनिमम 100 रुपये प्रति माह के इन्‍स्‍टॉलमेंट पर RD खुल जाती है. इसका मैच्योरिटी पीरियड 5 साल है. पोस्‍ट ऑफिस RD पर मौजूदा ब्याज दर 5.8 फीसदी सालाना है. अकाउंट सिंगल या ज्वॉइंट में, 10 साल से अधिक उम्र के नाबालिग और दिमागी रूप से कमजोर व्यक्ति के नाम खुलवा सकते हैं. अगर इसे माह की 15 तारीख से पहले खुलवाया है तो हर महीने की 15 तारीख से पहले आपका मंथली इन्‍स्‍टॉलमेंट इसमें डिपॉजिट हो जाना चाहिए.

पोस्‍ट ऑफिस मंथली इनकम स्‍कीम अकाउंट (MIS)

MIS का मैच्‍योरिटी पीरियड 5 साल है. इस पर मौजूदा ब्याज दर 6.6 फीसदी सालाना है, जो कि हर माह भुगतान किया जाता है. पोस्‍ट ऑफिस MIS में मिनिमम 1000 रुपये से अकाउंट खोला जा सकता है. मैक्सिमम इन्वेस्टमेंट लिमिट सिंगल अकाउंट के लिए 4.5 लाख और ज्वॉइंट अकाउंट के लिए 9 लाख रुपये है. अकाउंट को 10 साल से अधिक उम्र के नाबालिग और दिमागी रूप से कमजोर व्यक्ति के नाम पर भी खुलवा सकते हैं. अगर पोस्‍ट ऑफिस MIS को प्रीमैच्‍यो‍रली क्लोज करना चाहते हैं तो ऐसा 1 साल पूरा होने के बाद ही हो पाएगा.

पोस्ट ऑफिस फिक्स्ड डिपॉजिट (FD) 

पोस्ट ऑफिस फिक्स्ड डिपॉजिट (एफडी) में, एक तय अवधि के लिए एकमुश्त पैसा आप लगा सकते हैं. पोस्ट ऑफिस की टाइम डिपॉजिट में एक से पांच साल तक निवेश करने की सुविधा है. इसमें आप निश्चित रिटर्न और ब्याज भुगतान का फायदा लेते हैं. फिक्स्ड डिपॉजिट (एफडी) अकाउंट चार मेच्योरिटी अवधि- एक साल, दो साल, तीन साल और पांच साल के लिए ओपन कर सकते हैं. इस स्कीम में आपको आयकर अधिनियम, 1961 की धारा 80 सी के तहत टैक्स छूट का फायदा ले सकते हैं.

सुकन्या समृद्धि योजना (Sukanya Samridhi Yojana)

अपनी बेटियों के भविष्य को सिक्योर करने के लिए सुकन्‍या समृद्धि योजना एक बेस्ट ऑप्शन है. इस स्कीम में आपको अभी 7.6 फीसदी का रिटर्न मिल रहा है. यह आयकर अधिनियम की धारा 80सी के तहत 1.5 रुपए तक के निवेश पर कर में कटौती का लाभ भी देता है.

नेशनल सेविंग मंथली इनकम अकाउंट 

इस स्कीम में मेच्योरिटी पीरियड 5 साल है. अगर आप पोस्ट ऑफिस बैंक में खाता खुलवाने की सोच रहे हैं तो आप नेशनल सेविंग मंथली इनकम अकाउंट में निवेश कर सकते हैं. ग्राहक इस सेविंग्स अकाउंट को खोलकर हर महीने गारटींड अमाउंट पा सकते हैं। इसमें 10 साल से ज्यादा उम्र के लोग निवेश कर सकते हैं.

किसान विकास पत्र (KVP)

छोटे स्तर पर निवेश के लिए यह एक अच्छा विकल्प है. इस बचत स्कीम पर अब 6.9 प्रतिशत का ब्याज मिल रहा है. बता दें इसमें रिटर्न तो बेहतर मिलेगा लेकिन इस पर टैक्स की छूट नहीं मिलती है. इसके साथ ही पहले 113 महीने में मैच्योर होता था, जिसे अब 124 महीने कर दिया गया है. किसान विकास पत्र में न्‍यूनतम 1000 रुपए जमा किया जा सकता है. वहीं, अधिकतम निवेश की इसमें कोई सीमा नहीं है. 

पोस्‍ट ऑफिस टाइम डिपॉजिट (TD)

पोस्‍ट ऑफिस में 1 साल से 5 साल तक की TD खुलवा सकते हैं. अकाउंट को मिनिमम 1000 रुपये में खुलवाया जा सकता है, मैक्सिमम लिमिट नहीं है. पोस्‍ट ऑफिस TD पर मौजूदा ब्याज दर 5.5 फीसदी से 6.7 फीसदी सालाना तक है. TD सिंगल या ज्वॉइंट में, 10 साल से अधिक उम्र के नाबालिग या दिमागी रूप से कमजोर व्यक्ति के नाम पर कराई जा सकती है.

सीनियर सिटीजन सेविंग्‍स स्‍कीम (SCSS)

इस स्‍कीम का मैच्योरिटी पीरियड 5 साल है. SCSS पर मौजूदा ब्याज दर 7.4 फीसदी सालाना है. इस अकाउंट में केवल एक ही बार निवेश किया जा सकता है, जो मिनिमम 1000 रुपये से लेकर मैक्सिमम 15 लाख रुपये तक है. SCSS के तहत 60 साल या उससे ज्यादा की उम्र का व्यक्ति अकाउंट खुलवा सकता है. अगर कोई 55 साल या उससे ज्यादा का है लेकिन 60 साल से कम का है और VRS ले चुका है तो वह भी SCSS में अकाउंट खोल सकता है. 

ये भी देखें—



[ad_2]

Source link

Related posts

Diesel Bharo Inaam Jeeto: गाड़ी में तेल भरवाएं और पाएं 2 करोड़ रुपये जीतने का मौका, IOCL ने शुरू की स्कीम

News Malwa

Share Market में भारी गिरावट, Sensex 1400, Nifty 400 अंक टूटा, निवेशकों के 4 लाख करोड़ रुपये डूबे

News Malwa

EPF-Aadhaar Linking: ईपीएफ को आधार से लिंक करने की आखिरी तारीख बढ़ी, जानिए नई डेड लाइन

News Malwa