मध्य प्रदेश

PHL के पहले सीजन की मेजबानी करेगी Jaipur, 24 से शुरू होगा सीजन

[ad_1]

जयपुर: पिंक सिटी इस महीन के आखिर में कुछ आकर्षक खेल देखने के लिए तैयार है. क्योंकि प्रीमियर हैंडबॉल लीग (PHL) का उद्घाटन सीजन 24 दिसंबर से जयपुर के सवाई मानसिंह इंडोर स्टेडियम में शुरू होने जा रहा है. भारतीय हैंडबॉल महासंघ (HFI) के तत्वावधान में पीएचएल का आयोजन 24 दिसंबर से 10 जनवरी 2021 तक होगी. लीग के पहले सीजन के कार्यक्रमों की घोषणा शनिवार को जयपुर में आयोजित संवाददाता सम्मेलन के दौरान की गई.

18 दिनों तक चलने वाली यह लीग 24 दिसंबर से शुरू होगी और इसके सभी 33 मैच जयपुर के सवाई मानसिंह इंडोर स्टेडियम में खेले जाएंगे. एचएफआई के अध्यक्ष ए.जगनमोहन राव ने पीएचएल लॉन्च से इतर मीडिया से कहा, ‘भारतीय हैंडबॉल के इतिहास में यह एक महत्वपूर्ण पल होने जा रहा है क्योंकि प्रीमियर हैंडबॉल लीग से इस खेल को बहुत अधिक बढ़ावा मिलेगा, जिसने जमीनी स्तर पर काफी प्रगति की है और अब वह पदक जीतने वाले ओलंपिक खेल बनने की महत्वकांक्षा रखता है.’

उन्होंने कहा, ‘महासंघ के रूप में हमारा लक्ष्य न केवल लीग का संचालन करना है, बल्कि इसे एक उत्पाद के रूप में पेश करना है ताकि हैंडबॉल को बढ़ावा मिले और देश में इस खेल का समग्र विकास हो. मुझे विश्वास है कि जयपुर में जो सुविधाएं मौजूद है, उसके साथ वह एक बेहतरीन मेजबान साबित होगा। लीग के संचालन के दौरान राजस्थान सरकार की तरफ से मिलने वाले समर्थन के लिए हम उनका आभारी हैं.’

पीएचएल लीग के लॉन्च के अवसर पर राजस्थान प्रदेश कांग्रेस उपाध्यक्ष राजीव अरोड़ा, एचएफआई के उपाध्यक्ष आनंदेश्वर पाण्डेय, ठाकुर तेजराज सिंह, एचएफआई के पीएचएल को प्रमोटर्स असीम मर्चेंट और मनु अग्रवाल तथा सीईओ मृणालिनी शर्मा भी मौजूद थे.

इतिहास में यह पहली बार होगा जब राजस्थान किसी नेशनल स्पोटर्स लीग के पूरे सीजन की मेजबानी करेगा. 18 दिनों तक चलने वाले पुरुषों के इस मेगा इवेंट में 30 लीग मैच खेले जाएंगे और फिर इसके बाद तीन नॉकआउट गेम होंगे. राजस्थान प्रदेश कांग्रेस के उपाध्यक्ष राजीव अरोड़ा ने कहा, ‘जयपुर और पूरे राज्य के लिए इस तरह की लीगों की मेजबानी करने का यह एक बहुत बड़ा अवसर है. हमारा मानना है कि एक राज्य के रूप में हमारे पास काफी संभावनाएं हैं और इस तरह के खेलों के आयोजन से हमें अधिक घरेलू प्रतिभाओं का पता लगाने में मदद मिलेगी। हालांकि दर्शक लाइव एक्शन नहीं देख पाएंगे। लेकिन मुझे यकीन है कि यह लीग कई स्थानीय खिलाड़ियों को भारत के लिए खेलने के लिए प्रेरित करेगी.’

एचएफआई के उपाध्यक्ष आनंदेश्वर पाण्डेय ने कहा, ‘हमारे पास भारत में खेल खेलने वाले 80000 खिलाड़ी पंजीकृत हैं. यह भारत में खेल की उपस्थिति को देखते हुए एक बहुत बड़ी संख्या है. हैंडबॉल एक ओलंपिक खेल है और प्रतिभा तथा अवसरों के संदर्भ में अंतर्राष्ट्रीय महासंघ भारत को एक बड़ी संभावना के रूप में देखता है। मुझे लगता है कि सही समय पर पीएचएल की शुरूआत हो रही है और इससे ओलंपिक के लिए हमारे मिशन में मदद मिलेगी और यह भारत में खेलों पर अपना प्रभाव छोड़ेगा.’

पीएचएल के सीजन-1 में छह टीमें भाग लेगी। इन छह टीमों में तेलंगाना टाइगर्स, यूपी आइकन, महाराष्ट्र हैंडबॉल हसलर्स, किंगहॉक्स राजस्थान, बंगाल ब्लूज और पंजाब पिटबुल शामिल हैं, जो खिताब के लिए एक-दूसरे से भिड़ेगी. पीएचएल के पहले सीजन में 80 से अधिक खिलाड़ी भाग लेंगे और प्रत्येक टीम में 14 खिलाड़ी होंगे। प्रत्येक टीम में दो एशियाई और एक यूरोपीय खिलाड़ी सहित 14 खिलाड़ी होंगे. हालांकि कोरोना महामारी और यात्रा संबंधी प्रतिबंधों के कारण पहले सीजन में केवल सभी भारतीय खिलाड़ी ही होंगे.

पीएचएल इंडिया स्पोर्ट्स प्राइवेट लिमिटेड, भारतीय हैंडबॉल महासंघ (एचएफआई) के तत्वावधान में लीग का एक आधिकारिक लाइसेंस धारक है और यह अंतर्राष्ट्रीय हैंडबॉल महासंघ और एशियाई हैंडबॉल महासंघ के साथ संबद्ध है. इसका मकसद इस ओलंपिक खेल को विकसित करने और इसे अगले स्तर पर ले जाना तथा वैश्विक स्तर पर भारतीय एथलीटों का विकास और सफलता सुनिश्चित करना है.

(इनपुट-आईएएनएस)

 



[ad_2]

Source link

Related posts

जबलपुर के हनुमानताल में सनसनीखेज वारदात, 6 साल के बच्चे की गला रेत कर हत्या

News Malwa

मध्य प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा का दावा- हम 3-4 दिन में कोरोना संक्रमण पर पा लेंगे काबू

News Malwa

पहले आइसक्रीम खाई ,पानी पिया फिर पैंट उतारकर लाखों की चोरी की, CCTV में कैद|shahdol Videos in Hindi – हिंदी वीडियो, लेटेस्ट-ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी वीडियो में

News Malwa