दुनिया

Iranian Diplomat ने रची थी Trump के करीबी, British MP को उड़ाने की साजिश

[ad_1]

ब्रसेल्स: पांच ब्रिटिश सांसदों (British MP) और डोनाल्ड ट्रम्प (Donald Trump) के वकील रूडी गिउलिआनी (Rudy Giuliani) पर 2018 पेरिस सम्मेलन में बम विस्फोट (Bomb Blast) से उड़ाने की साजिश के मामले में ईरानी राजनयिक (Iranian diplomat) के खिलाफ बेल्जियम में केस चलेगा. ईरानी राजनयिक असदुल्लाह असदी (Assadollah Assadi) पर एक मदरसे में तैयार कए गए विस्फोटकों को यूरोप तक पहुंचाने का आरोप है. राजनयिक को इस घटना से पहले एयरपोर्ट सुरक्षा जांच से छूट मिली हुई थी.

इन लोगों को होना था रैली में शामिल
अभियोजकों का कहना है कि असदी ने एयरपोर्ट से निकलते ही इस बैग को उन लोगों को सौंप दिया था जिन्हें फ्रांसीसी राजधानी में ईरानी विपक्षी नेताओं द्वारा आयोजित एक शिखर सम्मेलन में इसे लगाना था. रैली के वक्ताओं में ब्रिटिश सांसद बॉब ब्लैकमैन, मैथ्यू ऑफर्ड, सर डेविड एम्स, थेरेसा विलियर्स और रोजर गोडिफ शामिल थे. डोनाल्ड ट्रम्प (Donald Trump) के निजी वकील रूडी गिउलियानी और न्यूयॉर्क के पूर्व मेयर बिल रिचर्डसन, संयुक्त राष्ट्र में पूर्व अमेरिकी राजदूत को भी रैली में शामिल होना था.

यह भी पढ़ें: रूस के राष्ट्रपति Vladimir Putin की इस Cute गर्लफ्रेंड की सैलरी जानकर चौंक जाएंगे आप

असदी पर यूरोप में आतंकवाद फैलाना के आरोप
ईरान के खुफिया और सुरक्षा मंत्रालय में एक अधिकारी के रूप में कर्य कर चुके असदी पर यूरोप में आतंकवाद फैलाना के आरोप हैं. इस घटना के पहले से ही वह ईरानी राजदूत थे. आरोप हैं कि 30 जून, 2018 को हुए सम्मेलन से कुछ समय पहले असदी तेहरान से वियना तक एक कमर्शियल फ्लाइट में बम रख कर लाए थे. कथित तौर पर राजदूत असदी ने विस्फोटकों को एक बेल्जियन-ईरानी दंपति को सौंप दिया था, जो एक कार के जरिए बम पेरिस तक लेकर आए.

यह भी पढ़ें: White House छोड़ने को तैयार हुए Donald Trump, सामने रखी ये शर्त

कुल चार लोग हैं आरोपी
हालांकि, बेल्जियम पुलिस ने एंटवर्प के पास कार को रोक लिया और विस्फोटक बरामद कर लिया. इस दंपति की गिरफ्तारी के बाद असदी को जर्मनी यात्रा के दौरान हिरासत में लिया गया था. इसके अलावा इस केस में  57 वर्षीय ईरानी कवि मेहरदाद अरफानी भी आरोपी हैं. अरफानी बेल्जियम में डेढ़ दशक से रह रहे हैं और उन पर भी साजिश में शामिल होने के आरोप हैं.

आतंकवादी समूह की गतिविधि में हैं शामिल?
इन चारों पर एक आतंकवादी हमले को अंजाम देने और एक आतंकवादी समूह की गतिविधि में भाग लेने का आरोप हैं. इस मामले में दोषी पाए जाने पर आजीवन कारावास की सजा सुनाई जा सकती है. मामले में दो साल की जांच के दौरान असद और अन्य आरोपियों के खिलाफ कई सबूत व कानूनी दस्तावेज जुटाए जा चुके हैं. बेल्जियम की बम निरोधक इकाई ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि यदि ये हमला सफल हो जाता तो करीब 25,000 लोगों की जान जा सकती थी.

LIVE TV



[ad_2]

Source link

Related posts

Nepal में बहाल होगी संसद, SC ने कहा- Sher Bahadur Deuba होंगे पीएम

News Malwa

सबसे लंबे समय तक Israel के PM रहे Netanyahu नहीं बचा पाए कुर्सी, Naftali Bennett ने संभाली देश की कमान

News Malwa

US: चोर-लुटरों ने नहीं, Black Bear ने की थी गाड़ियों में तोड़फोड़; यूं सामने आई सच्चाई

News Malwa