व्यापार-कारोबार

Gold Price: सोने के दामों में आ सकती है भारी गिरावट, पहले ही जान लीजिए कितना होगा सस्ता

[ad_1]

नई दिल्ली: कोरोना संकट के बढ़ने और अंतरराष्ट्रीय बाजार में हलचल की वजह से कुछ महीने पहले सोने के दाम आसमान पर थे. लेकिन हाल ही में सोना सस्ता (Gold Price down) हुआ है. लेकिन बात यहां खत्म नहीं होती. उम्मीद जताई जा रही है कि अगले साल की शुरुआत तक सोना 42,000 रुपये प्रति दस ग्राम तक गिर सकता है. आइए बताते हैं क्या है सुगबुगाहट…

क्या है सोने की स्थिति
हमारी सहयोगी वेबसाइट zeebiz.com के मुताबिक सुरक्षित निवेश के तौर पर गोल्ड में जमकर पैसों की बारिश हुई. यही वजह रही कि सोने का भाव (Gold price record high) अपने रिकॉर्ड स्तर तक पहुंचा. लेकिन, धीरे-धीरे कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) की खबरों ने इसकी लगाम खींच दी. रुपये (Rupee) में मजबूती लौटी. शेयर बाजार (Share Markets) भी रफ्तार पकड़ने लगे. अब सोने में निवेश (Gold Investment) उतना आकर्षक नहीं रहा. दाम नीचे की तरफ तेजी से गिर रहे हैं. पिछले तीन हफ्ते में गोल्ड का भाव 4000 रुपये तक गिर चुका है. वहीं, रिकॉर्ड हाई से 8000 रुपये प्रति 10 ग्राम तक लुढ़क गया है. 

VIDEO

ये भी पढ़ें: दिसंबर में 12 दिन Bank रहेंगे बंद, परेशानी से बचने के लिए यहां जानें Holiday list

42000 रुपये तक गिर सकती हैं कीमतें (Gold spot market price)
सोने के भाव में फिलहाल तेजी की कोई उम्मीद या सेंटीमेंट नहीं है. एक्सपर्ट्स बता रहे हैं कि फरवरी 2021 तक गोल्डो के भाव 42,000 रुपये प्रति 10 ग्राम के आसपास पहुंच सकते हैं. वहीं, चांदी की कीमतों में भी बड़ी कमी देखने को मिल सकती है. सोना अगस्त महीने में 56,200 रुपये प्रति 10 ग्राम पहुंचा था. यह सोने का सबसे उच्चतम स्तर था. शुक्रवार को दिल्ली सराफा बाजार में सोने का भाव 48,142 रुपये प्रति 10 ग्राम पर बंद हुआ. सोने की कीमतों में रिकॉर्ड हाई से 8,058 रुपये प्रति 10 ग्राम सस्ता हो चुका है.

वैक्सीनन की खबरों ने तोड़ी कीमतें (Corona vaccine impact on Gold price)
फेस्टिव सीजन खत्म होने के बाद शादी का सीजन शुरू हो गया है. व्यापारियों को उम्मीद है कि कीमतों में कुछ सुधर हो सकता है, लेकिन फरवरी तक सोने के भाव में बड़ी गिरावट आ सकती है. दरअसल, केंद्र सरकार ने सीरम इंस्टीसट्यूट ऑफ इंडिया (Serum Institute on India) से कोरोना वैक्सीन (Corona vaccine) की करीब 40 करोड़ डोज खरीदने की बातचीत कर ली है. वहीं, उम्मी्द है कि जल्द ही दूसरी कंपनियां भी वैक्सीन तैयार कर लेंगी. इससे बाजार में स्थिरता आएगी और लोग दूसरे विकल्पों में निवेश कर सकते हैं.

कीमतों का रिवर्स गियर रहेगा जारी (Gold price reverse gear)
एक्सपर्ट्स का मानना है कि कोरोना वैक्सीन को लेकर आ रही सकारात्मक खबरों के कारण सोने के भाव में उम्मीद से ज्यादा तेज गिरावट आई है. जैसे-जैसे कोविड-19 वैक्सीन को लेकर प्रगति बढ़ती जाएगी दुनियाभर में आर्थिक हालात (Global economic growth) पटरी पर लौटने लगेंगे. निवेशक गोल्ड से पूंजी निकालकर शेयर बाजार या दूसरे विकल्पों में निवेश करेंगे. इससे सोने की कीमतों में रिवर्स गियर जारी रहेगा.

रुपये की मजबूती भी करेगी वार (Rupee impact on Gold price)
इंडिया बुलियन एंड ज्वेलर्स एसोसिएशन के मुताबिक, अगर सोने के दाम ऐसे ही गिरते रहे तो मांग में तेजी से इजाफा होगा. हालांकि, ये मांग निवेश के बजाए शादी में इस्तेमाल की ज्यादा हो सकती है. इस समय शहरी, ग्रामीण और कस्बायई क्षेत्रों में सोने के आभूषणों की ठीक ठाक मांग है. घरेलू खपत बढ़ने से सोने की गिरती कीमतों को सहारा तो मिल सकता है, लेकिन ये स्थायी नहीं होगा. वहीं, डॉलर के मुकाबले रुपये की मजबूती से भी सोने की कीमतों में गिरावट का रुख बना हुआ है. इस महीने गोल्ड ETF की होल्डिंग में 10 लाख औंस की गिरावट आई है. इससे साफ है कि निवेशक धीरे-धीरे सोने में निवेश घटा रहे हैं. विदेशी बाजार में भी सोने के दाम 4 महीने के निचले स्तर पर आ गए हैं.

 



[ad_2]

Source link

Related posts

ऐसे Online Fraud से भगवान बचाए! मंगाई थी आधा किलो चांदी, डिलीवर हुआ गेहूं

News Malwa

Gold Price Today, 16 March 2021: सोना 11,000 रुपये से ज्यादा सस्ता! बीते दो हफ्तों से कीमतों में नरमी, लेकिन चांदी की चमक बढ़ी

News Malwa

Driving License बनवाना अब और भी आसान, Digital हो गई है पूरी प्रक्रिया

News Malwa