देश

GHMC POLL 2020: हैदराबाद नगर निगम का चुनाव कैसे बनता जा रहा नेशनल इलेक्शन!

[ad_1]

हैदराबाद: तेलंगाना में ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम चुनाव (GHMC POLL 2020) के लिए बीजेपी (BJP) ने पूरी ताकत झोंक दी है. बीजेपी (BJP) के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने 27 नवंबर को ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम चुनाव (GHMC POLL 2020) के लिए प्रचार अभियान का आगाज किया.

फिर 28 नवंबर यानी शनिवार को उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanth) पहुंचे और आज रविवार को केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah) हैदराबाद पहुंचेगे. बीजेपी (BJP) के बड़े नेताओं के प्रचार अभियान में पहुंचने के बाद ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम चुनाव (GHMC POLL 2020) नेशनल इलेक्शन के जैसा बन गया है.

ग्रेटर हैदराबाद में सियासी संग्राम तेज
ग्रेटर हैदराबाद म्युनिसिपल कॉर्पोरेशन की 150 सीटों के लिए सियासी संग्राम तेज हो गया है. पिछली बार तेलंगाना के मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव की पार्टी टीआरएस ने बाजी मारी थी और असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) की पार्टी एआईएमआईएम (AIMIM) के खाते में भी 44 सीटें गई थीं. लेकिन इस बार बीजेपी (BJP) ने इस लड़ाई को त्रिकोणीय बना दिया है.

चुनावों में BJP ने झोकी पूरी ताकत
ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम चुनाव (GHMC POLL 2020) जीतने के लिए बीजेपी (BJP) एड़ी-चोटी का जोर लगा रही है और इस सियासी जंग को और धार देने के लिए आज केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah) भी हैदराबाद का दौरा करेंगे. आज रविवार सुबह 10 बजे अमित शाह (Amit Shah) हैदराबाद के बेगमपेट में पहुंचे सकते हैं.

आज हैदराबाद पहुंचेंगे अमित शाह
केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah) सुबह 10 बजकर 35 मिनट पर हैदराबाद के भाग्य लक्ष्मी मंदिर में पूजा अर्चना के साथ अपने अभियान की शुरुआत करेंगे. सुबह 11 बजकर 45 मिनट से सिकंदराबाद में अमित शाह का रोड शो का कार्यक्रम है. करीब डेढ़ किलोमीटर लंबे रोड शो के बाद अमित शाह बीजेपी (BJP) के ऑफिस भी जाएंगे.

ये भी पढ़ें- Corona Vaccine: Serum Institute ने किया ये बड़ा दावा, PM मोदी ने कल किया था दौरा

हैदराबाद चुनाव में BJP के बड़े नेताओं की एंट्री
आपको बता दें कि ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम चुनाव (GHMC POLL 2020) के लिए बीजेपी (BJP) के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, प्रकाश जावडेकर, स्मृति ईरानी और तेजस्वी सूर्या भी प्रचार कर चुके हैं. निकाय चुनाव में बीजेपी (BJP) के इस स्टार वार पर असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) ने भी सवाल उठाए हैं. ओवैसी ने बीजेपी को चुनौती दी थी कि वो चाहें तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भी रैली करवा लें.

हैदराबाद में CM योगी का रोड शो
हैदराबाद में बीजेपी (BJP) के रोड शो में सड़क पर भारी भीड़ हुई. काफिले पर क्रेन से होती पुष्प वर्षा को दूर से देखने पर पता चल रहा था कि भगवा कपड़े में कोई व्यक्ति बस की छत पर खड़ा है. इतनी ही देर में कैमरे का एक नजदीकी दृश्य दिखता है और पहचान साफ हो जाती है कि बस की छत पर खड़े भगवा वस्त्र पहने ये व्यक्ति कोई और नहीं बल्कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanth) हैं.

रोड शो के दौरान CM योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanth) के हाथ में जो माइक दिख रहा था वो भी भगवा रंग के कपड़े से ढका हुआ था. इस रोड शो से एक बड़ा संदेश मिला है, जो और कोई समझे या ना समझे लेकिन ओवैसी भाइयों को जरूर समझ में आ गया होगा. जो अब तक ये कह रहे थे कि वो CM योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanth) से नहीं डरते हैं.

ये भी पढ़ें- इन 10 बीमारियों को दूर करता है करेला, जानिए गुणकारी फायदे

ओवैसी भाइयों के दिमाग का तापमान बढ़ा
हैदराबाद में CM योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanth) के रोड शो ने ओवैसी भाइयों के दिमाग का तापमान बढ़ा दिया है. हैदराबाद में जब CM योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanth) का रोड शो शुरू भी नहीं हुआ था, सिर्फ ये खबर आई थी कि CM योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanth) रोड शो करने हैदराबाद जाएंगे, तभी से असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) के भाई और AIMIM के नेता अकबरुद्दीन ओवैसी विवादित बयान देने लगे.

अकबरुद्दीन ओवैसी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को चायवाला कहा और अपने कार्यकर्ताओं से उन्हें ये भी कहना पड़ा कि वो मोदी-योगी से नहीं डरते हैं. जब CM योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanth) ने रोड शो के बाद सभा को संबोधित किया तो उन्होंने ओवैसी भाइयों को अपने अंदाज में जवाब दिया.

हैदराबाद चुनाव का पश्चिम बंगाल कनेक्शन
गौरतलब है कि ये लड़ाई 1 दिसंबर को होने वाले ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम चुनाव के लिए है और विरोधियों में चिंता इसलिए ज्यादा है कि बीजेपी (BJP) इस चुनाव को राष्ट्रीय चुनाव की तरह लड़ रही है. वाकई आप हैरान हो रहे होंगे कि ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम चुनाव में CM योगी आदित्यनाथ क्या कर रहे हैं.

हैदराबाद नगर निगम चुनाव के लिए बीजेपी (BJP) के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा क्यों आए. बीजेपी (BJP) के चाणक्य कहे जाने वाले अमित शाह प्रचार करने क्यों आ रहे हैं. इसकी एक बड़ी वजह है बिहार से होता हुआ राजनीतिक रास्ता हैदराबाद से पश्चिम बंगाल पहुंचेगा. ये आप ध्यान रखिए अप्रैल-मई में बंगाल में चुनाव होने हैं.

LIVE TV



[ad_2]

Source link

Related posts

कोरोना काल के बीच महंगा हुआ LUX और Lifebuoy, दो महीने में इतना चढ़े दाम

News Malwa

CBSE Board 12th Exam 2021: क्या होंगी 12वीं की परीक्षाएं? वरिष्ठ मंत्रियों की बैठक में आज हो सकता है फैसला

News Malwa

Maharashtra Corona Update: लगातार 7वें दिन महाराष्ट्र में कोरोना केस घटे, लेकिन मौतों के आंकड़ों ने बढ़ाई चिंता

News Malwa