देश

Farmers Protest के बीच Mann ki Baat में कृषि कानूनों पर PM मोदी ने कही ये बात

[ad_1]

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) आज रविवार को मन की बात (Mann Ki Baat) कार्यक्रम में देशवासियों को संबोधित किया. पीएम मोदी ने दिल्ली बॉर्डर पर चल रहे किसान आंदोलन (Farmers Protest) के बीच नए कृषि कानूनों पर बात की.

पीएम मोदी ने मन की बात में कहा, ‘हर भारतीय को ये जानकर खुशी होगी कि देवी अन्नपूर्णा की एक प्रतिमा कनाडा से वापस आ रही है. कनाडा से मां अन्नपूर्णा की मूर्ति वापस लाने में सहयोग करने वालों का मैं धन्यवाद करता हूं. मां अन्नपूर्णा की ये मूर्ति 1913 में वाराणसी से चोरी हो गई थी.’

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि मैं, Canada की सरकार और इस पुण्य कार्य को संभव बनाने वाले सभी लोगों का इस सहृदयता के लिये आभार प्रकट करता हूं. माता अन्नपूर्णा का, काशी से, बहुत ही विशेष संबंध है. अब, उनकी प्रतिमा का वापस आना हम सभी के लिए सुखद है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने मन की बात (Mann Ki Baat) में कहा कि माता अन्नपूर्णा की प्रतिमा की वापसी के साथ, एक संयोग ये भी जुड़ा है, कि, कुछ दिन पूर्व ही World Heritage Week मनाया गया है. World Heritage Week, संस्कृति प्रेमियों के लिए, पुराने समय में वापस जाने, उनके इतिहास के अहम पड़ावों को पता लगाने का एक शानदार अवसर प्रदान करता है.

ये भी पढ़ें- Farmers Protest: किसानों ने खारिज की गृह मंत्री की अपील, 26 जनवरी से बड़े आंदोलन की धमकी

उन्होंने कहा कि Crisis में कल्चर बड़ा काम आता है, ये इससे निपटने में अहम भूमिका निभाता है. Technology के माध्यम से भी कल्चर, एक इमोशनल रिचार्ज की तरह काम करता है.

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि आज देश में कई म्यूजियम और लाइब्रेरी अपने कलेक्शन को पूरी तरह से डिजिटल बनाने पर काम कर रही हैं. अब आप घर बैठे दिल्ली के नेशनल म्यूजियम गैलरी (National Museum Galleries) का टूर कर पाएंगे. दिल्ली में हमारे राष्ट्रीय संग्रहालय ने इस संबंध में कुछ सराहनीय प्रयास किए हैं.

प्रधानमंत्री ने कहा कि जहां एक ओर सांस्कृतिक धरोहरों को टेक्नोलॉजी के माध्यम से अधिक-से-अधिक लोगों तक पहुंचाना अहम है, वहीं इन धरोहरों के संरक्षण के लिए टेक्नोलॉजी का उपयोग भी महत्वपूर्ण है.

ये भी पढ़ें- Rajinikanth कल ले सकते हैं विधान सभा चुनावों पर फैसला, करेंगे बड़ा ऐलान

पीएम मोदी ने कहा, ‘मेरे प्यारे देशवासियों, भारत में खेती और उससे जुड़ी चीजों के साथ नए आयाम जुड़ रहे हैं. बीते दिनों हुए कृषि सुधारों ने किसानों के लिए नई संभावनाओं के द्वार भी खोले हैं. इन अधिकारों ने बहुत ही कम समय में, किसानों की परेशानियों को कम करना शुरू कर दिया है.’

प्रधानमंत्री ने कहा कि काफी विचार-विमर्श के बाद भारत की संसद ने कृषि सुधारों को कानूनी स्वरुप दिया. इन सुधारों से न सिर्फ किसानों के अनेक बंधन समाप्त हुए हैं, बल्कि उन्हें नए अधिकार भी मिले हैं, नए अवसर मिले हैं.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि कानून में एक और बहुत बड़ी बात है, इस कानून में ये प्रावधान किया गया है कि क्षेत्र के एसडीएम (SDM) को एक महीने के भीतर ही किसान की शिकायत का निपटारा करना होगा.

पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा, ‘अब जब ऐसे कानून की ताकत हमारे किसान भाई के पास थी तो उनकी समस्या का समाधान तो होना ही था, उन्होंने शिकायत की और चंद ही दिन में उनका बकाया चुका दिया गया.’

साथियों, इस महीने 12 नवंबर से डॉक्टर सलीम अली जी का 125वां जयंती समारोह शुरू हुआ है. डॉक्टर सलीम ने पक्षियों की दुनिया में Bird Watching को लेकर उल्लेखनीय कार्य किया है. मैं, हमेशा से Bird Watching के शौकीन लोगों का प्रशंसक रहा हूं.

उन्होंने आगे कहा कि बहुत धैर्य के साथ वो घंटों तक, सुबह से शाम तक, Bird Watching कर सकते हैं, प्रकृति के अनूठे नजारों का लुत्फ उठा सकते हैं और अपने ज्ञान को हम लोगों तक भी पहुंचाते रहते हैं. भारत में भी बहुत सी Bird Watching Society सक्रिय हैं. आप भी जरूर इस विषय के साथ जुड़िए.

LIVE TV



[ad_2]

Source link

Related posts

वैक्सीनेशन के बाद अगर हुए साइड इफेक्ट तो मुआवजा देगी Bharat Biotech, किया ये बड़ा ऐलान

News Malwa

UP में MLC चुनावों की रणभेरी बजी, खाली हुई 12 सीटों के लिए BJP ने 10 उम्मीदवारों के नाम घोषित किए

News Malwa

West Bengal: भारत से ज्यादा इन देशों में है दुर्गा मूर्तियों की डिमांड, दिन-रात काम में जुटे शिल्पकार

News Malwa