दुनिया

Covid-19 के लिए चीन ने India को ठहराया जिम्मेदार, ब्रिटेन की यूनिवर्सिटी ने दावा किया खारिज

[ad_1]

नई दिल्ली: कोरोना वायरस (Coronavirus) को दुनियाभर में फैलाने के लिए चीन (China) को जिम्मेदार माना जाता है, लेकिन चीन लगातार बिना कोई सबूत दिए इसके लिए इटली और अमेरिका समेत कई देशों को दोषी ठहरा चुका है. अब चीनी वैज्ञानिकों (Chinese scientists) ने कोविड-19 (Covid-19) की शुरुआत के लिए भारत को जिम्मेदार बताया है.

भारत में जानवरों से इंसानों में जाने का दावा
चाइनीज एकेडमी ऑफ साइंसेज (Chinese Academy of Sciences) के शोधकर्ताओं की एक टीम ने दावा किया कि कोविड-19 (COVID-19) वायरस पिछले साल गर्मियों में भारत में पैदा हुआ था. यह वायरस पहले जानवरों में फैला और फिर दूषित पानी से इंसानों में चला गया. यहीं से कोरोना वायरस (Coronavirus) चीन के वुहान (Wuhan) पहुंचा था, जहां वायरस के बारे में पहली बार पता चला था.

ये भी पढें- दिल्ली वालों के लिए सुकून की खबर; कम हो रहा कोरोना संक्रमण, CM केजरीवाल ने कही ये बात

लाइव टीवी

ग्लासगो यूनिवर्सिटी ने दावों को किया खारिज
चीन के इस दावे को ब्रिटेन के ग्लासगो यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर डेविड राबर्ट्सन ने सिरे से नकार दिया है. साथ ही चीनी शोधकर्ताओं द्वारा प्रस्तावित सिद्धांत को ‘बहुत त्रुटिपूर्ण’ बताया है. उन्होंने कहा है कि चीन के दावों में कोई दम नहीं है और इसमें कोविड-19 से जुड़ी कोई भी नई बात पता नहीं चलती है.

डीएनए में हर बार होते हैं छोटे परिवर्तन
चीनी टीम ने कोविड-19 (Covid-19) की उत्पत्ति का पता लगाने के लिए फाइलोजेनेटिक विश्लेषण का उपयोग किया है. डेलीमेल की रिपोर्ट के अनुसार, सभी कोशिकाओं की तरह वायरस, प्रजनन करते समय उत्परिवर्तित होते हैं, जिसका अर्थ है कि उनके डीएनए में हर बार छोटे परिवर्तन होते हैं.

चीनी वैज्ञानिकों ने दिया अजीब तर्क
चीनी शोधकर्ताओं ने अपनी स्टडी में अजीब तर्क दिया है. उनका कहना है कि भारत और बांग्लादेश दोनों जगह कोरोना वायरस (Coronavirus) के स्वरूप में कम यानी मामूली बदलाव हुआ और दोनों देश भौगोलिक रूप से भी एक दूसरे के नजदीकी हैं, इसलिए संभव है कि कोरोना का पहला संक्रमण का मामला वहीं सामने आया हो.

India Fights Against Corona: PM Modi के ये अहम फैसले साबित होंगे मील के पत्थर

चीन पहले इन देशों पर लगा चुका है आरोप
यह पहली बार नहीं है कि चीन ने कोरोना वायरस (Coronavirus) की उत्पत्ति को लेकर बिना सबूत दिए इटली और अमेरिका पर भी आरोप लगा चुका है. अब भारत और चीन के बीच पूर्वी लद्दाख में एलएसी (LAC) पर चल रहे सीमा विवादके बीच भारत पर कोरोना वायरस की उत्पत्ति के लिए जिम्मेदार ठहराया है.

वुहान से आया था कोरोना वायरस
इससे पहले कई वैज्ञनिकों ने दावा किया था कि कोरोना वायरस चीन के शहर वुहान (Wuhan) से आया था. हालांकि वैज्ञानिकों ने कहा था कि कोरोना के उत्पत्ति स्थल यानि ओरिजन प्वाइंट को लेकर बांग्लादेश, अमेरिका, ग्रीस, ऑस्ट्रेलिया, भारत, इटली, चेक रिपबल्कि, रूस या सर्बिया जैसे आठ देशों को भी अपने स्तर पर पड़ताल करनी चाहिए.



[ad_2]

Source link

Related posts

WHO की चेतावनी: अभी और जानलेवा होगा Corona, बच्चों को Vaccine लगाने के बजाये Covax को दान देने की अपील

News Malwa

Red Sea में धमाका, ईरान का जहाज मामूली रूप से क्षतिग्रस्त; Israel पर शक

News Malwa

Corona Epidemic से दुनिया में महिलाओं की हालत हुई बदतर, United Nations Women Commission ने जताई चिंता

News Malwa