दुनिया

China की कंपनी ने बना ली Covid-19 Vaccine, लाइसेंस के लिए किया आवेदन

[ad_1]

बीजिंग: चीन की शीर्ष दवा कंपनियों में से एक सिनोफार्म (Sinopharm) ने कोरोना की वैक्सीन बना ली है. एक बयान जारी कर कंपनी ने कहा कि उसने सरकार के पास इस बात के लिए आवेदन भेजा है कि उसकी वैक्सीन पूरी तरह से प्रभावी है और अब आम लोगों के इस्तेमाल के लिए तैयार है.

यूएई समेत कई देशों में ट्रायल पूरा
सिनोफार्म (Sinopharm) चीन की शीर्ष वैक्सीन उत्पादक कंपनी है. उसने चीनी प्रशासन को सूचित किया है कि कंपनी दुनिया के अलग अलग हिस्सों में सफल रहे क्लीनिकल ट्रायल के बाद अपनी वैक्सीन अब बाजार में उतारने को तैयार है.  प्रशासन इसके लिए जल्द मंजूरी दे. कंपनी ने यूएई जैसे देशों में ट्रायल किया और उसके डाटा के आधार पर दवा बेचने की अनुमति मांगी है.

China में फिर Corona का खौफ

पांच कंपनियों की वैक्सीन ट्रायल के आखिरी दौर में
चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता झाओ लिजिआन (Chinese Foreign Ministry spokesman Zhao Lijian) ने कहा कि पांत चीनी कंपनियों की वैक्सीन कई देशों में क्लीनिकल ट्रायल कर रही हैं. ये चीनी कंपनियां यूएई(UAE), ब्राजील(Brazil), पाकिस्तान (Pakistan) और पेरू (Peru) में ट्रायल कर रही हैं. 

10 लाख चीनियों को मिल चुकी है वैक्सीन!
सिनोफार्म कंपनी के चेयरमैन लिउ जिंगझेन ने बताया कि चीन में 10 लाख लोगों को इमरजेंसी में वैक्सीन दी गया, लेकिन कोई भी मामला खराब नहीं हुआ.

एस्ट्रोजेनेका की वैक्सीन के आंकडों में गड़बड़ी
कोरोना महामारी की वैक्सीन बनाने में जुटी कंपनी एस्ट्रेजेनेका ने गलती स्वीकार की है. एस्ट्रेजेनेका ने कहा कि वैक्सीन बनाते समय कुछ गलतियां हुई, जिससे नतीजों पर फर्क पड़ा. एस्ट्रेजेनेका ने ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय (AstraZeneca and Oxford University) के साथ मिलकर वैक्सीन (COVID-19 vaccine) तैयार की है, जिसके दो अलग अलग नतीजे आए और फिर विशेषज्ञों की उंगली भी उठने लगी.

VIDEO



[ad_2]

Source link

Related posts

यूरोपीय संघ में कोविड-19 टीकाकरण प्रारंभ, वायरस के खिलाफ लड़ाई में ऐतिहासिक दिन

News Malwa

जानें Seema Nanda से जुड़ी ये खास बातें, राष्ट्रपति Joe Biden की टीम में मिली है जगह

News Malwa

Purple Islands: अपने आप में अनूठा है South Korea का ये आईलैंड, घरों को छोड़कर यहां सब कुछ बैंगनी

News Malwa