मध्य प्रदेश

7 दिसंबर से ‘दिल्ली कूच’ करेंगे Rajasthan के किसान, 8 दिसंबर को ‘भारत बंद’ का ऐलान

[ad_1]

जयपुर: किसान आंदोलन (Farmers Agitation) को लेकर अखिल भारतीय किसान सभा (All India Kisan Sabha) ने केंद्र की किसान विरोधी नीतियों के खिलाफ दिल्ली कूच (Delhi Cooch) का ऐलान किया है. 

यह भी पढ़ें- कृषि कानून को लेकर राजस्थान किसान संघर्ष समिति का ऐलान, 3 दिसंबर को 2 घंटे चक्का जाम

माकपा नेता और पूर्व विधायक अमराराम (Amraram) ने कहा कि केंद्र की नरेन्द्र मोदी सरकार (Narendra Modi Governemnt) द्वारा पारित तीन किसान और कृषि विरोधी काले कानूनों और प्रस्तावित बिजली बिल (Proposed electricity bill) को रद्द करने की मांग को लेकर पूरे देश के किसान लंबे समय से आंदोलनरत हैं. 

देश के 500 से ज्यादा किसान, खेतिहर मजदूर, आदिवासी संगठनों ने किसानों के संयुक्त मोर्चा और अखिल भारतीय किसान संघर्ष समन्वय समिति के आह्वान पर 26 नवम्बर से “दिल्ली चलो” के आव्हान के तहत दिल्ली कूच किया.

यह भी पढ़ें- Delhi के लिए रवाना हुए Anupgarh के किसान, रवानगी से पहले किया ऐसा काम कि…

 

क्या कहना है किसान नेता अमराराम का
अमराराम (Amraram) ने कहा कि बीजेपी (BJP) की सरकार और प्रधानमंत्री मोदी की हठधर्मिता, अलोकतांत्रिक व्यवहार, जुल्म और अन्याय का शिकार आज देश के किसान को होना पड़ रहा है. मोदी सरकार (Modi Governemnt) के इस रवैये और दमन की अखिल भारतीय किसान सभा (All India Kisan Sabha) की राज्य कमेटी ने कड़ी आलोचना करते हुये केंद्र सरकार (Central Government) को चेतावनी दी है कि वह किसानों के धैर्य की और परीक्षा न लेते हुए तुरंत चारों काले कानून वापस लेने का ऐलान करें अन्यथा पूरे देश का किसान आमजनता के साथ मिलकर केंद्र की चंद पूंजीपतियों की पैरोकार मोदी सरकार को उखाड़ फेंकेगा. अमराराम ने कहा कि अखिल भारतीय किसान सभा (All India Kisan Sabha) की राजस्थान राज्य कमेटी (Rajasthan State Committee) द्वारा आंदोलन के केंद्रीय अव्हान के तहत पूरे देश में 01-10 दिसम्बर के राष्ट्रीय-अभियान को राज्य में लागू करते हुये सतत् जनअभियान चलाया जा रहा है.

यह भी पढ़ें- Farmer Protest के बीच किसानों के लिए अच्छी खबर, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना बनी वरदान

 

इसके तहत प्रधानमंत्री मोदी का पुतला-दहन सहित पर्चा-पोस्टर का प्रकाशन और वितरण, सभाओं, गोष्ठियों, धरना-प्रदर्शन के जरिये राज्य के गांव-गांव में अभियान लगातार चलाया जा रहा है. किसान-आंदोलन के कारण दिल्ली के सभी हाईवे बंद हैं, सिर्फ जयपुर-दिल्ली हाईवे खुला हुआ है. राज्य में पंचायत और स्थानीय निकायों के चुनावों के बावजूद राजस्थान (Rajasthan) के अलग अलग हिस्सों से हजारों की संख्या में किसान दिल्ली के टिकरी और सिंधु बोर्डर पहुंचे हुये हैं.

राज्य कमेटी में लिए गए ये फैसले
– राज्य कमेटी में फैसला लिया गया है कि अब राजस्थान (Rajasthan) से जयपुर-दिल्ली हाइवे पर किसान अपने साधनों के साथ दिल्ली कूच करेंगे.
– अलग-अलग जिलों से सिलसिलेवार जत्थे दिल्ली की ओर कूच करने के लिए जयपुर-दिल्ली हाइवे पर पहुंचेंगे और एक साथ आगे बढ़ते हुए दिल्ली जाएंगे.
– पहला जत्था कोटा से 7 दिसम्बर को रवाना होगा. उसके बाद अलग-अलग जिलों और तहसीलों से किसानों के जत्थे एक रणनीति के तहत योजनाबद्ध तरीके से दिल्ली की तरफ कूच करेंगे.
– किसान आंदोलन (Farmers’ movement) की तरफ से 8 दिसम्बर को भारत बंद का आह्वान किया गया है.
– किसान सभा की राजस्थान राज्य कमेटी (Rajasthan State Committee) ने निर्णय लिया है कि किसान संघर्ष समन्वय समिति, राजस्थान में शामिल सभी संगठनों और तमाम लोकतंत्र की हितैषी जनतांत्रिक ताकतों को साथ में लेते हुए राज्य में बंद को सफल बना कर मोदी सरकार के जुल्म का करारा जवाब दिया जाएगा.
– आम जनता, किसानों, मजदूरों और व्यापारी बंधुओं से भारत-बंद को सफल बनाने और तन-मन-धन से सहयोग करने की अपील की है.

राज्य कमेटी ने कुछ यूं किया आगाह
राज्य कमेटी ने आगाह करते हुए कहा कि यह आंदोलन अब सिर्फ किसानों का नहीं अपितु आम जनता का और लोकतंत्र और संविधान की रक्षा का आंदोलन बन चुका है. अत: इस आंदोलन को मजबूत करते हुये तानाशाहीपूर्ण प्रवृत्तियों पर रोक लगा कर लोकतंत्र की रक्षा करने के किसानों के संघर्ष में सहयोग करने के लिए आगे आएं.

– राज्य कमेटी ने सभी श्रमिक संगठनों, जन संगठनों, राजनैतिक दलों को भी धन्यवाद दिया है, जो किसान आंदोलन (Farmers’ movement) के साथ खड़े रहे हैं. 

– राज्य में आंदोलन को व्यापक आकार देने के लिए अन्य सभी किसान संगठनों, जनवादी संगठनों, किसान हितैषी राजनीतिक दलों और आम जनता से भी इस आंदोलन में सहयोग करने और साथ देने की अपील की है.



[ad_2]

Source link

Related posts

MP के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा की बना डाली फर्जी FB आईडी, आरोपी ने शेर पोस्ट किया- शीशा कमज़ोर होता है लेकिन…

News Malwa

MP News Live Updates: सीएम की कोरोना पर समीक्षा बैठक, फिलहाल नाइट कर्फ्यू पर निर्णय नहीं

News Malwa

हम किसी से कुछ लेने नहीं आए, जो बेस्ट होगा, लोग वहां जाएंगे: सीएम योगी

News Malwa