धर्म-कर्म

शीघ्र विवाह, करियर और धन संबंधी समस्याओं के लिए गुरुवार को करें ये विशेष उपाय

[ad_1]

रिश्ते तो आ रहे हैं लेकिन कहीं बात नहीं बन पा रही है, रोज़गार तो है लेकिन करियर में उन्नति यानि प्रमोशन नहीं हो रही है, घर में धन संबंधी समस्याओं का डेरा है. अगर आप भी इसी तरह की परेशानियों का सामना कर रहे हैं गुरुवार के दिन कुछ विशेष उपाय कर आप इन सभी समस्याओं से छुटकारा पा सकते हैं.

गुरुवार के दिन विशेष रूप से भगवान विष्णु की उपासना की जाती है. और इन्हें जगत का पालनहार कहा जाता है. इसीलिए गुरुवार के दिन अगर पूरे विधि विधान से नारायण की पूजा और इन्हें प्रसन्न करने के लिए कुछ खास उपाय किए जाते हैं तो फिर जीवन में सुख, समृद्धि व खुशहाली लाई जा सकती है. चलिए बताते हैं गुरुवार के कुछ विशेष उपाय.(Gurwar ke Upay)

शीघ्र विवाह के लिए गुरुवार को उपाय(Guruwar Ke Vivah Upay)

  • अगर आप चाहते हैं कि आपकी शादी जल्द से जल्द हो जाए और आपको आपके सपनों का साथी मिल जाए तो गुरुवार को विष्णु जी के निमित्त व्रत किया जा सकता है. इससे भगवान विष्णु प्रसन्न होते हैं और जल्द शादी का योग बनता है. 
  • व्रती को इस दिन पीले वस्त्र धारण करने के साथ साथ पीली चीज़ों का भोग भगवान को लगाना चाहिए और खुद भी इस दिन पीले रंग की चीज़ों का ही सेवन करें. बेसन के लड्डू, बेसन की रोटी खाई जा सकती है.
  • व्रती जब विधि विधान से पूजा करे तो विशेष रूप से बृहस्पति देव के 108 नामों का उच्चारण भी करना चाहिए. इससे विवाह में आ रही तमाम रुकावटें दूर होती हैं. 

धन संबंधी समस्याओं के लिए गुरुवार के उपाय

आमतौर पर भी कहा जाता है कि गुरुवार के दिन बाल न धोने के साथ साथ हाथ व पैरों के नाखून भी नहीं काटने चाहिए. इसके पीछे तर्क यह है कि ऐसा करने से भगवान हरि अप्रसन्न होते हैं और घर में दरिद्रता का नाश होता है. 

प्रमोशन पाने के लिए गुरुवार के उपाय

आप किसी कंपनी में लंबे समय से कार्यरत हैं, पूरी मेहनत से काम भी करते हैं लेकिन फिर भी आपका प्रमोशन नहीं हो रहा है तो गुरुवार के दिन किसी ज़रुरतमंद को पीली वस्तुओं का दान करना उपयुक्त माना गया है. पीली मिठाई, पीली दाल या पीले रंग के फलों व वस्त्रों का दान किया जा सकता है. 

बिजनेस में तरक्की के लिए गुरुवार के उपाय(Guruwar ke Upay for buisness)

अगर बिजनेस में तरक्की पाना चाहते हैं तो इसके लिए भी सरल उपाय अपना सकते हैं. इसके लिए आपको हरि नारायण के साथ साथ माता लक्ष्मी का आशीर्वाद भी प्राप्त करना चाहिए. इसके लिए हर गुरुवार उनकी पूजा करें, पीली चीज़ों का भोग लगाएं और ऑफिस में पीले रंग की वस्तुओं का इस्तेमाल ज्यादा से ज्यादा करें.

ये भी पढ़ें: Sankashti Chaturthi 2020: तीन दिसंबर को है संकष्टी चतुर्थी, इसके व्रत से पूरी होती है मनोकामनाएं, जानें पूजा विधि, शुभ मुहूर्त

[ad_2]

Source link

Related posts

महालक्ष्मी पूजा: घर, परिवार और समाज के नियमों का पालन करने से प्रसन्न होती हैं गजलक्ष्मी

News Malwa

Jupiter Transit 2021 Effects: गुरु ग्रह ने किया राशि परिवर्तन, जानें 12 राशियों पर कैसा रहेगा प्रभाव

News Malwa

Masik Durga Asthami 2021: मासिक दुर्गाष्टमी व्रत कब? जानें शुभ मुहूर्त, सरल पूजा विधि और इसका महत्व

News Malwa