मध्य प्रदेश

बिहार: PM पैकेज की 24 योजनाओं की हुई समीक्षा, नेशनल हाईवे के काम में तेजी लाने का निर्देश जारी

[ad_1]

पटना: बिहार के पथ निर्माण मंत्री मंगल पांडेय ने निविदा की प्रक्रियाधीन योजनाओं की निविदा शीघ्र सुनिश्चित करते हुए राष्ट्रीय उच्च पथ के अन्तर्गत पटना-गया-डोभी रोड का कार्य तेज गति से करने और आरा-मोहनिया पथ का कार्य 15 दिनों में कार्य शुरू करने का निर्देश दिया है.

मंगल पाण्डेय आज भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण द्वारा राज्य में संचालित नेशनल हाईवे परियोजनाओं की अद्यतन स्थिति की समीक्षा बैठक को सम्बोधित कर रहे थे. उन्होंने 10 दिसम्बर को कोईलवर पुल के शुभारम्भ के प्रस्तवित कार्यक्रम की तैयारी की समीक्षा की. साथ-साथ पटना रिंग रोड का कार्य एक माह में प्रारम्भ करने का निर्देश दिया. 

पथ निर्माण मंत्री मंगल पांडेय ने भारतमाला के अंतर्गत प्रस्तावित औरंगाबाद-दरभरंगा 4 लेन पथ के निर्माण हेतु भू-अर्जन कार्य में तेजी लाने,  कोईलवर-बक्सर (एनएच30 एवं 84) के निर्माण में आ रही बाधाओं को दूर करते हुए शीघ्र निर्माण कार्य पूर्ण कराने, गंगा नदी पर मटिहानी एवं साम्हो के बीच नये पुल निर्माण हेतु डीपीआर शीघ्र तैयार कर भू-अर्जन कार्य प्रारम्भ करने, प्रगतिशील सभी परियोजनाओं का समयबद्ध कार्यान्वयन सुनिश्चित् करने, ओभर लोडिंग रोकने के लिए जेपी सेतु के पहुच पथ में लगाये गये स्वचालित बैरियर की तर्ज पर राज्य के अन्य पथों/पुलों पर भी स्वचालित बैरियर लगाने तथा मेगा परियोजनाओं का अनुश्रवण और सघन करने का निर्देश बैठक में दिया.

समीक्षा के क्रम में पाया गया कि प्रधानमंत्री पैकेज के अधीन कुल 24 योजनाओं में 1459.50 किमी राष्ट्रीय उच्च पथों का उन्नयन कार्य कुल 30200 करोड़ की कर्णांकित राशि से कराया जा रहा है. भारत माला परियोजना के अंतर्गत चयनित 8 परियोजनाओं के अंतर्गत कुल 925 किमी की लम्बाई में अतिरिक्त 23000 करोड़ की लागत से नये कॉरीडोर का निर्माण कराया जा रहा है.

प्रधानमंत्री पैकेज के तहत कुल 24 पैकेज के विरूद्ध 19 पैकेज में कार्य प्रगति में है, 01 पैकेज निविदा की प्रक्रिया में है और 04 पैकेज में भू-अर्जन कार्य प्रगति में है. इसी प्रकार भारत माला परियोजना में कुल स्वीकृत 8 योजनाओं में 01 योजना में कार्य प्रारम्भ किया गया है एवं 01 में निविदा आमंत्रित की गई है. 04 योजनाओं में भू-अर्जन कार्य प्रगति में है, 01 में भू-अर्जन कार्य शीघ्र प्रारम्भ होना है एवं 01 योजना का विस्तृत परियोजना प्रतिवेदन तैयार किया जा रहा है.

मंगल पांडेय ने निविदा की प्रक्रियाधीन योजनाओं के निविदा का शीघ्र निष्पादन सुनिश्चित् करते हुए कार्य प्रारम्भ कराने के साथ-साथ-भू-अर्जन के मामलों में जिन भू-अर्जन पदाधिकारियों द्वारा शिथिलता बरती जा रही है, उनके विरूद्ध आवश्यक अनुशासनिक कार्रवाई प्रारम्भ किये जाने हेतु प्रतिवेदित करने का निर्देष दिया.



[ad_2]

Source link

Related posts

इंदौर में 50 लाख का सोना लेकर फरार हुए चोर, दुकानें बंद होते ही पहुंच गए चोरी करने

News Malwa

सरकारी पैसे से नहीं राम भक्तों के सहयोग से बनेगा राम मंदिर, आप भी बन सकते हैं ‘रामकाज’ का हिस्सा

News Malwa

तेजस्वी के वादे पर बलियावी का हमला, कहा- RJD का 10 लाख में 1 नौकरी देने का था मकसद

News Malwa