देश

पत्नी की डांट से छोड़ दी नौकरी और घर, महीनों ढूंढती रही पुलिस; मिला इस हाल में

[ad_1]

नई दिल्ली: कई व्यक्ति पत्नी की डांट फटकार से डरकर घर छोड़कर भाग सकता है? दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच (Delhi Police Crime Branch) के सामने एक ऐसा ही मामला सामने आया है. क्राइम ब्रांच ने एक ऐसे व्यक्ति को पकड़ा है जो 19 महीने पहले पत्नी के डर से घर से भाग गया. प्राइवेट कंपनी की जॉब छोड़कर 19 महीने तक वह हरियाणा (Haryana) के मेवात (Mewat) में मामूली से वेतन पर ड्राइवर की नौकरी करता रहा.  

पुलिस ने कराई काउंसलिंग
इस दौरान उसकी पत्नी ने अदालत (Court) का दरवाजा भी खटखटाया और उसके दोस्त का पॉलीग्राफ टेस्ट  (Polygraph Test) तक कराया गया. बीते मंगलवार को व्यक्ति पुलिस ने खोज निकाला. हालांकि वह घर जाने को राजी नहीं था लेकिन दिल्ली पुलिस (Delhi Police) क्राइम ब्रांच द्वारा उसकी पत्नी को बुलाया गया और काफी समझाने के बाद शख्स घर जाने को तैयार हुआ. डिप्टी कमिश्नर क्राइम ब्रांच मोनिका भारद्वाज ने कहा, ‘हमने दंपति की काउंसलिंग करवाई है, ताकि वह फिर घर से भाग न जाए.’

ऑनोएडा में दर्ज हुई गुमशुदगी
पुलिस के मुताबिक पिछले साल अप्रैल तक, शख्स अपनी पत्नी और एक बेटे के साथ रहता था. युवक एक पेंट फर्म के लिए काम करता था जहां उसे 25,000 रुपये वेतन मिलता था. पिछले साल 12 अप्रैल की सुबह, वह नोएडा में काम के लिए अपने घर से निकला लेकिन वापस नहीं लौटा. नोएडा में गुमशुदगी की शिकायत दर्ज की गई, लेकिन पता नहीं लग सका.

दोस्त पर था शक
घर से भागने वाले शख्स की पत्नी को उसके करीबी दोस्त पर शक था. पुलिस ने कॉल डिटेल निकलवाई तो लापता होने से ठीक पहले युवक ने अंतिम बार इसी दोस्त से बात की. उसने अपने दोस्त से 10,000 रुपए एक रिश्तेदार को देने के लिए कहा. लापता युवक का जब कोई पता नहीं चल सका तो उसकी पत्नी ने इस साल की शुरुआत में दिल्ली हाई कोर्ट का दरवाजा खटखटाया.

यह भी पढ़ें: Farmers Protest के बीच केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद और प्रकाश जावड़ेकर के ट्वीट, बोले- ‘नहीं खत्म हुई MSP’

कोर्ट तक पहुंचा मामला
15 अक्टूबर को, अदालत ने दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा से अब तक की गई कार्रवाई की रिपोर्ट मांगी. केर्ट के आदेश पर पुलिस ने अपहरण की एफआईआर दर्ज की. इसके बाद जिस दोस्त पर शक था उसका पॉलीग्राफ टेस्ट कराया गया. जिससे स्पष्ट हआ कि मामले से लापता हुए युवक के दोस्त का कुछ लेनादेना नहीं है. पुलिस ने उसके माता-पिता, रिश्तेदारों और कई दोस्तों से पूछताछ की. कॉल डिटेल रिकॉर्ड (सीडीआर) भी निकलवाई.

काफी समझाने के बाद आया
इसी दौरान नोएडा पुलिस के हाथ कुछ सुराग लगा. क्राइम ब्रांच ने इसी सुराग के आधार पर तफ्तीश शुरू कर दी. जल्द ही, पुलिस टीम मेवात पहुंची जहां लापता शख्स एक मजदूर तौर पर काम कर रहा था. पूछताछ में पता चला कि वह शख्स वहां ड्राइवरी करता है. शख्स से पूछताछ की गई तो उसने बताया कि वह ऐसा सिर्फ पत्नी से दूर रहने के लिए कर रहा है. उसे दिल्ली वापस लाने के लिए दिल्ली पुलिस को काफी मशक्कत करनी पड़ी.

LIVE TV



[ad_2]

Source link

Related posts

एक बार में ही वायरस का काम तमाम कर देगा ये ईको-फ्रेंडली सैनिटाइजर, बार-बार लगाने की नहीं पड़ेगी जरूरत

News Malwa

अरविंद केजरीवाल की पत्नी Sunita Kejriwal हुई कोरोना से संक्रमित, CM ने भी खुद को किया क्वारंटीन

News Malwa

Singhu Border पर कांग्रेस नेता Gurlal Singh Bhullar की हत्या का बनाया था प्लान, पूछताछ में हुआ बड़ा खुलासा

News Malwa