उज्जैन मालवा

खुशियां मनाएं- लेकिन मास्क जरूर लगाएं:200 मेहमान आ सकेंगे, बरात में 50 लोग रहेंगे, अनुमति किसी के लिए जरूरी नहीं केवल थाने में सूचना देना होगी

खुशियां मनाएं- लेकिन मास्क जरूर लगाएं:200 मेहमान आ सकेंगे, बरात में 50 लोग रहेंगे, अनुमति किसी के लिए जरूरी नहीं केवल थाने में सूचना देना होगी

शादी-ब्याह की तैयारियों में जुटे लोगों के लिए जिला प्रशासन ने नई व राहतभरी गाइड लाइन जारी की हैं। अब 100 की बजाय 200 तक मेहमान बुलाए जा सकेंगे। बारात में भी बैंड-बाजे की टीम को छोड़कर 50 लोग शामिल रह सकेंगे। यही नहीं अब शादी-ब्याह के लिए किसी तरह की प्रशासनिक अनुमति की भी जरूरत नहीं है। केवल संबंधित थाने को सूचना पत्र देना होगा।

इन तमाम छूट के साथ कलेक्टर आशीष सिंह ने सभी धार्मिक, सामाजिक व सांस्कृतिक गतिविधियों के लिए धारा 144 के तहत नई गाइड लाइन जारी की है। इससे सबसे बड़ा फायदा उन परिवारों को होगा जो कि अब तक मेहमानों व बारातियों की संख्या को लेकर पसोपेश में थे।

इनके साथ ही बैंड-बाजे, केटर्स, फोटोग्राफर व टेंट हाउस सहित शादी-ब्याह व समारोह के क्षेत्र से जुड़े कारोबारियों को भी राहत मिलेगी। गौरतलब है कि जिला आपदा प्रबंध समूह की बैठक में शादी-ब्याह आदि कार्यक्रमों में रहात देने का निर्णय लेने के बावजूद प्रशासन द्वारा इस संबंध में नई गाइड लाइन जारी नहीं की जा रही थी।

ऐसे में लोगों को हाे रही परेशानियों को बयां करती खबर भास्कर ने बुधवार के अंक में ही प्रकाशित की थी। जिसमें बताया था कि 250 शादी-ब्याह की अनुमति हुई हैं और केवल 100 मेहमानों ही परमिशन दी जा रही है, अन्य बंदिशें भी है। इधर इस खबर का असर ये हुआ कि रात तक जिला प्रशासन ने सभी बिंदुओं का परीक्षण करने के बाद उक्त नई व राहतभरी गाइड लाइन जारी की।

स्थानीय प्रशासन चाहे तो और अतिरिक्त छूट भी दे सकता

गाइड लाइन में यह स्पष्ट किया है कि छूट के बावजूद भी आवेदन आने पर यदि एसडीएम व सीएसपी चाहे तो आपसी समन्वय के बाद अतिरिक्त छूट भी दे सकेंगे। नई गाइड लाइन दो महीने के लिए प्रभावशील रहेगी। इसका उल्लंघन करते पाए जाने पर धारा 188 के तहत कार्रवाई की जाएगी।

नेता बोले- कार्यक्रम करे लेकिन गाइड लाइन का ध्यान रखें

इधर सांसद अनिल फिरोजिया व विधायक पारस जैन ने लोगों को आह्वान किया है कि वे नई गाइड लाइन का पालन करते हुए कार्यक्रम करें। पूरा ध्यान रखें कि सामाजिक खुशियां मनाने के इस अवसर में कोरोना संक्रमण के कारण बाधा न आएं।

रात 10 बजे तक ही हो सकेंगे विवाह समारोह

विभिन्न सामाजिक एवं सामूहिक कार्यक्रमों में एक स्थान पर एक समय में 200 व्यक्तियों को शामिल होने की अनुमति रहेगी। विवाह के लिए चल समारोह में बैंड के साथ 50 व्यक्तियों को – बैंड पार्टी के वर्कर को छोड़कर प्रोसेशन की अनुमति रहेगी। ऐसे लोग जो मैरिज हाल-गार्डन व धर्मशाला के स्थान पर अपने घरों व आसपास सार्वजनिक खुले स्थान पर समारोह कर रहे हैं, उन्हें ये ध्यान रखना होगा कि कार्यक्रम से यातायात बाधित न हो। विवाह समारोह रात 10 बजे तक ही हो सकेंगे। आयोजकों को विवाह व अन्य पारिवारिक संस्कार कार्यक्रम की अनुमति लेने की जरूरत नहीं है। लेकिन आयोजकों को इस संबंध में अपने थाने में सूचना देना होगी।

Related posts

वैक्सीनेशन से जुड़ी कुछ अहम जानकारियां, Corona Vaccine लगवाने से पहले इन्हें जरूर जानें

News Malwa

आत्महत्या:प्रेमिका से बोला कि फांसी लगाने जा रहा हूं, घर आई तो देखा प्रेमी फंदे पर लटका था

News Malwa

रतलाम में मां-बाप, बेटी की हत्या:गोली मारकर हत्या करने वाला कोई नजदीकी जो जाते समय ले गया एक्टिवा, किसी ने नहीं सुनी फायरिंग की आवाज

News Malwa