व्यापार-कारोबार

एक से ज्यादा हैं बैंक में Accounts तो हो सकती है मुश्किल, ऐसे कराएं बंद

[ad_1]

नई दिल्लीः बैंक (Bank) आजकल अकाउंट पर कई तरह के ऑपरेशनल चार्ज वसूलते हैं. अगर आपके पास एक से अधिक बैंक सेविंग अकाउंट (Savings Account) हैं तो जाहिर है आपको अधिक चार्ज बैंकों को देने होंगे. फाइनेंशियल एडवाइजर की भी सलाह है कि जरूरत से ज्यादा सेविंग अकाउंट नहीं रखने चाहिए. अगर आपको भी लगता है कि आपके पास अनावश्यक सेविंग अकाउंट्स हैं तो आप उसे क्लोज करा सकते हैं. इसके लिए कुछ प्रक्रिया अपनाने होते हैं.

ऐसे खुल जाते हैं बहुत सारे खाते
आज के दौर में काफी लोग एक से अधिक बैंकों के खाते रखते हैं. इसे जरूरत समझें या फिर मजबूरी. एक आम इंसान के लिए यह परेशानी का सबब हो सकता है, लेकिन यदि आप एक कारोबारी हैं और दिनभर में पैसों का लेनदेन लाखों-करोड़ों में है तो यह आपके लिए फायदेमंद है. सेविंग्‍स अकाउंट को बंद करवाने से पहले इसकी समीक्षा करनी जरूरी है. इसमें यह देखें कि उस अकाउंट से कहीं आपके लोन की ईएमआई तो नहीं जाती,या निवेश के पैसे तो नहीं कटते या फिर कोई ट्रेडिंग अकाउंट तो लिंक्‍ड नहीं है. अगर ऐसा नहीं है तो आप उस अकाउंट को बंद करा सकते हैं. अकाउंट बंद करते समय आपको डी-लिंकिंग अकाउंट फॉर्म भरना पड़ सकता है.

यह भी पढ़ेंः 1 जनवरी से महंगा होगा UPI से ट्रांजेक्शन करना, देना होगा Extra Charge

खाता बंद करने से पहले करें जीरो बैलेंस
जब आप यह तय कर लेते हैं कि आपको कौन सा बैंक सेविंग अकाउंट बंद कराना है तो उस अकाउंट से सारे पैसे निकाल लें. यह काम आप एटीएम से या ऑनलाइन ट्रांसफर की मदद से कर सकते हैं.

बैंक में जाकर के भरें क्लोजर फॉर्म
अपना बैंक अकाउंट बंद करवाने के लिए आपको खुद ब्रांच जाकर क्‍लोजर फॉर्म भरना होगा. आपको यह भी बताना होगा कि आप अपना सेविंग्‍स अकाउंट क्‍यों बंद करवा रहे हैं. अगर आपके खाते में पैसे हैं और आप उसे किसी दूसरे अकाउंट में ट्रांसफर करवाना चाहते हैं तो आपको एक और फॉर्म भरना होगा. 

जमा करनी होगी चेकबुक, पासबुक और डेबिट कार्ड
अगर आप अपना सेविंग्‍स अकाउंट बंद करवाने जा रहे हैं तो इस्‍तेमाल न की गई चेकबुक, पासबुक और डेबिट कार्ड जरूर साथ ले जाएं. क्‍लोजर फॉर्म के साथ बैंक आपसे ये तीनों चीजें जमा करने को कह सकता है.

ऐसे लगता है क्लोजिंग चार्ज
आम तौर पर सेविंग्‍स अकाउंट ओपन कराने के 14 दिनों के भीतर उसे बंद करवाने पर बैंक कोई चार्ज नहीं लेते हैं. 14 दिन से लेकर 1 साल की अवधि के दौरान अकाउंट बंद करवाने पर आपको क्‍लोजर चार्ज देना पड़ सकता है. एक साल से पुराने खाते को बंद करवाने पर बैंक आम तौर पर कोई चार्ज नहीं लेते हैं.

ये भी देखें—



[ad_2]

Source link

Related posts

Corona: हॉस्पिटल में कर रहे हैं 2 लाख से ज्यादा का कैश पेमेंट तो अब देना होगा ये नंबर, IT विभाग ने ट्वीट कर दी जानकारी

News Malwa

केंद्र सरकार के कर्मचारियों को बड़ी राहत! LTC कैश वाउचर स्कीम के नियमों में हुआ बदलाव

News Malwa

SBI ने ग्राहकों के लिए जारी किया खास नंबर, बस एक कॉल पर हो जाएंगे ये सभी काम

News Malwa