देश

आंखों देखा हाल: जानें, किसान आंदोलन से Delhi-UP बॉर्डर पर लोगों को किस हद तक हो रही परेशानी

[ad_1]

नई दिल्ली: कृषि कानून (Farm Laws) के विरोध में किसानों के आंदोलन की वजह से दिल्ली (Delhi) और नोएडा (Noida) के लोगों को भारी परेशानी से जूझना पड़ रहा है. ट्रैफिक जाम इतना ज्यादा है कि DND और मयूर विहार में लोगों को दूसरे रास्तों से आना जाना पड़ रहा है.

बता दें कि कृषि कानून (Farm Laws) में बदलाव की मांग कर रहे किसानों के आंदोलन (Farmers Protest) का आज आठवां दिन है. किसान दिल्ली के जंतर-मंतर और रामलीला मैदान (Ramleela Maidan) में जाने के लिए दिल्ली की सभी बॉर्डर पर जमे हुए हैं. दिल्ली-नोएडा बॉर्डर पर पुलिस ने 6 लेयर में बैरिकेडिंग की है. पुलिस के साथ यहां CISF के जवान भी मौजूद हैं, बॉर्डर सील होने की वजह से यहां से दिल्ली और नोएडा आने जाने वाले लोगों को काफी परेशानी हो रही है. कई लोगों को ऑफिस जाने में परेशानी हो रही है. ऐसे में अब देखना होगा कि कब तक किसान बॉर्डर पर डटे रहेंगे और कब तक बॉर्डर सील रहेगा.

किसान नेताओं से बातचीत पर केंद्र ने शुरू किया मंथन, Amit Shah और Narendra Singh Tomar के बीच हो रही बैठक
लोगों ने अपनी परेशानी बताते हुए कहा, ‘हमें ऑफिस जाना था लेकिन अब यहां (मयूर विहार) से समझ नहीं आ रहा है कि कहां और कैसे जाऊं क्योंकि सभी रास्ते बंद हैं.’

ट्रैफिक जाम में फंसी एक महिला ने बताया, ‘मैं नोएडा सेक्टर 15 जा रही थी, मुझे 9 बजे ऑफिस जाना होता है पर यहां जाम इतना है, रास्ते ब्लॉक कर दिए गए हैं. मैं लक्ष्मी नगर से आ रही हूं, अशोक नगर वाला रास्ता भी बंद है. एक हाई वे ही है जिससे मैं ऑफिस जा सकती हूं. अब मुझे घर जाने के अलावा कोई ऑप्शन नहीं दिख रहा क्योंकि शाम को भी यहां जाम मिलेगा. कल भी 15 मिनट के रास्ते में मुझे 1 घंटा लग गया था.’

ग्रेटर नोएडा जाने में भी परेशानी
एक अन्य व्यक्ति ने कहा कि सेक्टर 15 जाना है, गोल चक्कर के पास. मैं निजामुद्दीन से आ रहा हूं ड्यूटी के लिए. आंदोलन चल रहा है उससे आम जनता परेशान है. प्रदर्शन करो लेकिन आंदोलन की वजह से मेरी ड्यूटी चलाी जाएगी. 500-600 रुपये का नुकसान हो जाएगा. 

लोगों को ग्रेटर नोएडा जाने में भी बहुत परेशानी हो रही है. सारे रास्ते बंद हैं. कल शाम को भी ऐसा ही हाथा.

हालांकि किसान आंदोलन ने जुड़े लोगों ने कहा कि हमारी वजह से आम लोगों को आने जाने में परेशानी नहीं हो रही है. ये परेशानी सरकार के काले कानूनों की वजह से हो रही है. 



[ad_2]

Source link

Related posts

Covid-19 Updates: देश में 24 घंटे में सामने आए 1.33 लाख नए केस, फिर 3200 से ज्यादा मरीजों की मौत

News Malwa

मुकेश अंबानी के घर Antilia के पास खड़ी SUV से मिला विस्फोटक, सरकार ने क्राइम ब्रांच को सौंपी जांच

News Malwa

Andhra Pradesh सरकार कोरोना मरीजों के Last Rites के लिए देगी 15 हजार की आर्थिक मदद

News Malwa